ऑटो वाले की दरिंदगी (Cruelty) की शिकार लड़की की हुई स्कूल में डिलीवरी

0
537
ऑटो वाले की दरिंदगी (Cruelty) की शिकार लड़की की हुई स्कूल में डिलीवरी

हमारे समाज के कुछ दरिंदों की दरिंदगी (Cruelty) की वजह से कई लड़कियों को असमय  डिलीवरी (Delivery) के दर्द से गुजरना पड़ा है. उन लोगों द्वारा जिंदगियों को बर्बाद करने का खेल बदस्तूर जारी है. अभी एक ऐसी ही दुखद घटना का शिकार एक दसवीं कक्षा की छात्रा को होना पड़ा है. ये घटना बेहद विचलित करने वाली है.

दरिंदगी (Cruelty) का आलम

ऑटो वाले की दरिंदगी (Cruelty) की शिकार लड़की की हुई स्कूल में डिलीवरी

अब भला दसवीं में पढ़ने वाली लड़की को क्या पता होता है. तो उसे इस बारे में कुछ भी पता नहीं चला था. वहीं घरवालों को लगा कि गैस या किसी अन्य कारण से पेट फुला लग रहा है. लेकिन इसी बिच उस ऑटो वाले को ये बात पता चल गया इसलिए उसने उसे गर्भपात की दवाई दे दी. इसका परिणाम ये हुआ कि उस बच्ची की प्री-मेच्योर डिलीवरी स्कूल में ही हो गई. की को शुरू में अपने प्रेग्नेंट होने का पता नहीं चला. जब पेट फूलने लगा तो आरोपी ने उसे बच्चा गिराने की दवा खिला दी.

दवाई का असर ये हुआ कि लड़की को स्कूल में प्री-मेच्योर डिलीवरी (26 सप्ताह) हो गई. एग्जाम के दिन बाथरूम में लड़की ने बच्ची को जन्म दिया. खबरों के अनुसार अब जच्चा-बच्चा दोनों ही खतरे से बाहर हैं. और अब दोनों अस्पताल में भर्ती हैं. लड़की ने अस्पताल में होस आने के बाद ही पूरी घटना बयान किया.

क्या है घटना?

ऑटो वाले की दरिंदगी (Cruelty) की शिकार लड़की की हुई स्कूल में डिलीवरी

दरअसल ऐसी रोंगटे खड़े करने वाली घटनाएँ लगातार हो रहीं हैं. इस तरह की घटनाओं में कई बार अपने परिचित लोग भी शामिल पाए जा रहे हैं. वहीँ दूसरी तरफ विश्वास पात्र लोग भी पकडे जा रहे हैं. लेकिन कुछ बीमार लोग महिलाओं को अपनी कुंठा का शिकार बना रहे हैं. इस घटना में लड़की के पड़ोस में रहने वाले एक ऑटो ड्राईवर की भूमिका है. उस दरिन्दे ने लड़की का चार-पांच बार रेप किया और उसे अपने नियंत्रण में रखने के लिए कभी पांच सौ कभी आठ सौ रुपए देता था. इसके साथ ही किसी को न बताने की धमकी भी देता था.

LEAVE A REPLY